समस्तीपुर के उजियारपुर बीडीओ को हटाने की मांग को लेकर प्रमुख के नेतृत्व में भूखहड़ताल तीसरे दिन भी जारी।

समस्तीपुर के उजियारपुर बीडीओ को हटाने की मांग को लेकर प्रमुख के नेतृत्व में भूखहड़ताल तीसरे दिन भी जारी।

समस्तीपुर के उजियारपुर बीडीओ को हटाने की मांग को लेकर प्रमुख के नेतृत्व में भूखहड़ताल तीसरे दिन भी जारी।

आक्रोशित पंचायत समिति सदस्यों ने जिलाधिकारी का पुतला फूका।

समस्तीपुर के उजियारपुर में10 जनवरी ‘ 018 प्रखण्ड मुख्यालय में बीडीओ संजीव कुमार को हटाने की मांग को लेकर उजियारपुर प्रखण्ड प्रमुख रिंकी कुमारी के नेतृत्व में सात समिति सदस्यों का भूखहड़ताल तीसरे दिन भी जारी रहा।

इस बीच पंचायत समिति सदस्यों ने जिलाधिकारी पर बीडीओ को बचाने का आरोप लगाते हुए प्रखण्ड मुख्यालय के सामने जिलाधिकारी का पुतला दहन कर आक्रोश व्यक्त किया।

विदित हो कि पंचायत समिति संघ के बैनरतले 15 सूत्री मांगों को लेकर 8 जनवरी से प्रखण्ड प्रमुख रिंकी कुमारी, रेखा देवी,लालो देवी ,रूवी देवी, किरण देवी, अनारसी देवी, रामनारायण दास अनिश्चितकालीन भूखहड़ताल पर बैठे हैं।

इस बीच जिला पार्षद रिंकी कुमारी और मालती के पैक्स अध्यक्ष मो० अजीम ने अनशनकारियों से मिलकर उनके मांगों का समर्थन किया | दलसिंहसराय अनुमंडल पदाधिकारी, उप-विकास आयुक्त (डीडीसी) ने कारवाई का भरोसा देकर भूखहड़ताल समाप्त करने का अनुरोध किया जिसे अनशनकारियों ने ठुकराते हुए बीडीओ संजीव कुमार को तत्काल हटाए जाने, प्रधानमंत्री आवास योजना एवं शौचालय निर्माण में व्यापक घूसखोरी की उच्चस्तरीय जाँच कराकर कारवाई करने, बैठक पंजी के साथ छेड़छाड़ करने के विरूद्ध बीडीओ पर मुकदमा दर्ज करने, जनप्रतिनिधियों पूर्व और वर्तमान के बकाया भत्ता का भुगतान देने, दाखिल-खारिज के बदले घूसखोरी पर रोक लगाने, सामाजिक सुरक्षा पेंशन की बकाया राशि का तत्काल भुगतान देने, रामभरोश राय के संचालन में आयोजित सभा को संजय कुमार दास, रमेश राम, मो० अनवर,पवन कुमार सिंह, विष्णुदेव प्रसाद सिंह, बैजनाथ राय, कौशर खलील, फूलेन्द्र प्रसाद सिंह,उपप्रमुख लालबहादुर साह,प्रमोद राय, सविता देवी, कंचन कुमारी, अनिता देवी, रितु कुमारी, उमेश सहनी, उमाकान्त पासवान, गोपाल साह के अलावे अन्य लोगों ने संबोधित किया।

पंचायत समिति संघ के अध्यक्ष रामबाबू राय ने अध्यक्षता करते हुए मांगों को पूरा करने के लिए 11 जनवरी को एनएच-28 पर चक्का जाम करने की घोषणा किया |