जिला के लाल भारत माता के रक्षा में हुये शहीद

जिला

जिला के लाल भारत माता के रक्षा में हुये शहीद

शेखपुरा: अमर शहीद अंकित राज भारत माँ के रक्षा के लिये दीया जान । नम आंखों से गाँव वालों ने दी अंतिम विदाई । पुरा गाँव हुआ भाव विभोर लोगों के आँसू पर नहीं चल रहा था अपना बस परिवार छोड़ कई लोग तो चिंघाड़ मार रोने लगे । पंचतत्व में विलीन हुये वहीं अंकित राज की याद में बनाई जायेगी स्मृति चिन्ह जो हमे सदियों तक याद दिलाती रहेगी । उनके परिवार के लोगो ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान बताया कि अमर अंकित को खेल में भी राज्य और केंद्र सरकार के ओर से भी कई बार इन्हें पुरस्कार भी मिला था ।

दुःख सबसे ज्यादा तब हुआ जब उन्होंने बताया कि चितौरा ग्राम में उनका शादी का भी बात चल रहा था । जिले में पार्थिव शरीर पहुंचते ही तड़के लोग उनका गाँव जाने का तांता लग गया, आस पास के गाँव की माने तो शोक का लहर 2 दिनों पूर्व से चल रहा था पर जैसे ही तीसरे दिन पार्थिव शरीर पहुंचा उमड़ पड़े सारे लोग । जिला के आला अधिकारी सहित कई अन्य अधिकारियों ने अपना पूरा फर्ज निभाया । वहीं जिले से कई राजनीतिक लोग भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया ।

इस पुनीत कार्य में शामिल होकर अपने आपको गर्व महशुस कर रहे हैं लोग । चेवाड़ा के एकढा गांव में अभी भी शुभ चिंतकों का आना जाना लगातार जारी है । बताते चले लद्दाख में हुये भारी वर्फ़ वारी ने ली अंकित राज की जान । अपने ड्यूटी और कर्तव्य को निभाते हुए गस्ती पर जाने के दौरान ही साथियो से भरा ट्रक पर ही वर्फ़ की चट्टान गिर गयी जिसमें हमारे कई सैनिको की जानें चली गयी जिसमे एक शेखपुरा जिले चेवाड़ा के एकढा गाँव का अंकित कुमार राज भी शहीद होकर अमर हो गये ।