युवक की हत्या के आठ दिन वाद भी पुलिस को नही मिला कोई सुराग , न ही कोई अपराधी पकड़े गये

युवक की हत्या के आठ दिन वाद भी पुलिस को नही मिला कोई सुराग , न ही कोई अपराधी पकड़े गये

युवक की हत्या के आठ दिन वाद भी पुलिस को नही मिला कोई सुराग , न ही कोई अपराधी पकड़े गये । सारण जिले के सोनपुर थाना क्षेत्र के भरपुरा निवासी छठु भगत के पौत्र रंजन कुमार 20 वर्ष को 29 दिसम्बर 17 को देर शाम उनके मुख्य दरवाजे पर ही पहले से धात लगाये अपराधियो ने धराधर हथियार से कनपटी पर वार कर मासूम बच्चे को मौत की नींद सुला दिया ।

रंजन के मौत से उनके परिवार के लोगो को रो – रो कर बुरा हाल है । आज आठ दिन गुजर गए । लेकिन अब तक न तो हत्या का कारण पता चला न ही हत्या की कोई सुराग मिला है । मृतक के परिजन थाने में प्राथमिक दर्ज कराई साथ ही कुछ संदिग्ध व्यक्ति के ऊपर भी आरोप लगाया । लेकिन आज तक अपराधी को पुलिस पकड़ने में विफल रही ।

अब कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं कि — जब मृतक के परिजन थाने में संदिग्ध लोगों के ऊपर प्राथमिकी दर्ज की गई तो फिर अपराधियो को पुलिस अपने काम में लापरवाही बरतते हुए इस घटना के अंजाम तक पहुँचने में विफल क्यों हो रहे हैं क्या अपराधी को पुलिस से ज्यादा पहुँच है । इस बात की चर्चा क्षेत्र में काफी जोरो से चल रही है कि कहि गरिबो को न्याय न देकर पुलिस किसी की पैरवी के वजह से आज तक अपराधियो को पकड़ने में विफल साबित हो रहे हैं ।