गुमला : धनकुटनी मशीन में दुपट्टा फंसने से 12 साल की बच्ची का गर्दन अलग हुआ

गुमला : धनकुटनी मशीन में दुपट्टा फंसने से 12 साल की बच्ची का गर्दन अलग हुआ

गुमला : धनकुटनी मशीन में दुपट्टा फंसने से 12 साल की बच्ची का गर्दन अलग हुआ

गुमला : कामडारा थाना के लोयंगा गांव में धनकुटनी मशीन की चपेट में आने से 12 साल की बच्ची रोजलीना केरकेट्टा की मौत हो गयी. धनकुटनी के मशीन में दुपट्टा फंसने के कारण बच्ची की गर्दन मशीन से कटकर अलग हो गया. जिससे बच्ची की घटना स्थल पर ही मौत हो गयी. घटना के वक्त बच्ची की मां भी मौके पर मौजूद थी.

इससे पहले की बच्ची स्वयं को दुपट्टा से छुड़ा पाती या उसकी मां सुमंती देवी कुछ कर पाती. मशीन ने बच्ची को अपनी चपेट में ले लिया. घटना गत शनिवार की शाम लगभग छह बजे की है. रविवार को सदर अस्पताल गुमला के पोस्टमार्टम हाउस में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है.

जानकारी के अनुसार रोजलीना शाम को अपने घर से लगभग 100 मीटर दूर पानी लाने गयी थी. वहीं रोजलीना की मां सुमंती देवी घर के आंगन में धनकुटनी मशीन में धान कुट रही थी. रोजलीना पानी लेकर वापस लौटी और धनकुटनी मशीन के समीप से गुजरने के दौरान धनकुटनी के चलते हुए मशीन में रोजलीना का दुपट्टा मशीन में फंस गया.

दुपट्टा जैसे ही मशीन में फंसा. रोजलीना मशीन की ओर खींचती चली गयी. रोजलीना दुपट्टे को छुड़ाने का प्रयास की. लेकिन तेज गति से चलती मशीन की ओर वह खींची चली गयी और दुपट्टा उसके गर्दन से लपेटे होने के कारण उसका गर्दन पूरी तरह से कट गया. रोजलीना के मौसा नेलशन किंडो ने बताया कि घटना के वक्त रोजलीना की मां सुमंती देवी वहीं थी.

लेकिन अचानक से घटित हुए घटना पर वह भी कुछ नहीं कर पायी. नेलशन ने बताया कि रोजलीना केमताटोली विद्यालय में कक्षा छह की छात्रा थी. वह पढ़ले-लिखने में तेज थी. गत शनिवार (पांच जनवरी) को ही रोजलीना का पिता अजीत केरकेट्टा कमाने के लिए गोवा के लिए निकला था और एक दिन बाद इधर घटना घट गयी।