जज करेंगे लालू प्रसाद यादव के लिए जेल मे चूरा दही का इंतजाम

चारा घोटाला

जज करेंगे लालू प्रसाद यादव के लिए जेल मे चूरा दही का इंतजाम

बिहार: चारा घोटाले के एक मामले में सजायाफ्ता बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के ऊपर इसी घोटाले के एक अन्य मामले में 24 जनवरी को फैसला सुनाया जाएगा.

चारा घोटाले के एक अन्य मामले में बुधवार को लालू प्रसाद अन्य अभियुक्तों के साथ रांची की विशेष सीबीआई अदालत में पेश हुए. जज शिवपाल सिंह की कोर्ट में लालू यादव ने हफ्ते में मात्र तीन मिलने वालों की संख्या को बढ़ाने की मांग की.

जब लालू से फर्जी तरीके से जेल में अपने समर्थक यानी सेवादार रखने पर कोर्ट के जज ने सवाल किया तो लालू ने इस मामले से साफ इनकार कर दिया. लालू ने कहा कि उन्हें मामलू भी नहीं है.

लालू ने मीडिया पर इसका ठीकरा फोड़ते हुए कहा कि ये सब मीडिया की दिमाग की उपज है. 

कोर्ट में लालू यादव ने मकर संक्रांति की चर्चा करते हुए कहा कि उनके यहां इसे काफी धूम-धाम से मनाया जाता है. इसलिए उनके समर्थकों से उन्हें मिलने दिया जाये. इस पर जज शिवपाल सिंह ने कहा कि वो सनिश्चित करेंगे कि जेल के अंदर आपके लिए दही चूड़ा का इंतजाम हो जाए. हालांकि, लालू यादव ने हजारीबाग के ओपन जेल जाने में अपनी असमर्थता जाहिर की और कहा कि वहां पर सुरक्षा का मुद्दा हो सकता है.

पिछले हफ्ते हुए सजा की चर्चा करते हुए लालू यादव ने कहा कि उन्होंने इस पर एक शब्द भी नहीं बोला. मगर जब जज ने राजद के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की चर्चा की तब लालू यादव ने कहा कि उन्हें नहीं मालूम कौन है यह शहाबुद्दीन.

बता दें कि सजा के ऐलान से पहले जब कोर्ट में लालू यादव ने जज से कहा था कि साबह जेल में बहुत ठंड लगती है तब जज ने कहा था कि तबला बजाइये