समाहरणालय के समक्ष विभिन्न मांगों को लेकर भाकपा माले का प्रदर्शन

समाहरणालय के समक्ष विभिन्न मांगों को लेकर भाकपा माले का प्रदर्शन

बेतिया। बेतिया राज की जमीन पर वास करने वाले, जीवन जीविका चलाने वाले दुकानदार व आम लोग अपनी वास भूमि के कानून भूमि-अधिकार के संबन्ध में आई दिक्कतों को लेकर समाहरणालय के समक्ष भाकपा माले ने महाधरना प्रदर्शन करते हुए प0 चंपारण जिला पदाधिकारी के माध्यम से बिहार सरकार मुख्य मंत्री को ज्ञापन सौपा।

उन्होंने ज्ञापन के माध्यम से चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष में अंग्रेजी जमाने के कानून कोर्ट ऑफ वार्डस के अधीन बेतिया राज को चलाने की प्रक्रिया का अंत करने, बेतिया राज की जमीन को बिहार राज के भूमि सम्बन्धी कानून दायरे में लाने, बेतिया राज की जमीन को बिहार के सामान्य भूमि सम्बन्धी कानून के दायरे में लाने के लिए बिहार सरकार अन्य विकल्प के न होने पर सुप्रीम कोर्ट संबन्धी पीठ में इस मामले की अपील कर, चीनी मिल, इस्टेटो, बड़े भूपतियों के कब्जे में पड़ी बेतिया राज की और बेनामी जमीन पर सीलिंग वाद चलाकर आवास भूमिहीन गरीबो के बीच वितरित हो,

डी0 वनधोपाध्यय भूमि आयोग ने प0 चंपारण में एक लाख सैंतीस हजार एकड़ चोरी की गई जमीन को चिन्हित किया है,

बेतिया राज की जमीन में बसे सभी गरीब व आम लोगो को उनकी वास भूमि का कानून अधिकार दिया जाए, बेतिया राज की जमीन पर राजदेवड़ी और अन्य जगहों पर चल रही दुकानों की व्यक्तिगत लीज की जाए, नीलामी प्रक्रिया रद्द हो, बेतिया बुद्धा कॉलोनी में प्रशासन द्वारा जिन सैकड़ो घरो को ध्वस्त किया गया है,

उसका मुआवज़ा के साथ पुर्ननिर्माण किया जाए एवं व्हम्परान लैंड ट्रिब्यूनल का गठन किया जाए, इन मांगों को लेकर भाकपा माले के नेताओ द्वारा इन बातों पर बल दिया गया।

वही सभा को संबोधन करते हुए नेताओ ने कहा कि 29 नवम्बर 2017 को बुद्धा कॉलोनी के सैकड़ो घरो को पुलिस प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने के नाम पर ध्वस्त कर दिया गया है। यहाँ तक कि लाठीचार्ज भी किया गया जिसका शिकार बच्चे व वृद्ध भी हुए है। इस जगह बेतिया राज की जमीन पर देश की आजादी के बाद से ही कटाव से वेघर हुए, रोजी-रोटी की तलाश में, व शिक्षा के लिए वासियो हजार परिवार आकर बसते रहे है।

बिहार सरकार के भूमि सम्बन्धित कानून के आधार पर उन सभी को उनकी वास भूमि पर कानूनी रूप से बहु-अधिकार मिलना चाहिए। इस महाधरना सभा को कई नेताओं ने बारी-बारी से सम्बोधन किया। मौके पर सुनील यादव, सुनील कुमार राव, प्रमोद राय, जितेंद्र राम, सुरेंद्र चौधरी, बृजेश गुप्ता सहित कई उपस्थित रहे।