उपदेश देते हुए पल्ली पुरोहित फादर फिनटन ने कहा क्रिसमस का त्योहार येसु के जन्मोत्सव का त्योहार है

उपदेश देते हुए पल्ली पुरोहित फादर फिनटन ने कहा क्रिसमस का त्योहार येसु के जन्मोत्सव का त्योहार है

उपदेश देते हुए पल्ली पुरोहित फादर फिनटन ने कहा क्रिसमस का त्योहार येसु के जन्मोत्सव का त्योहार है

बेतिया। क्रिसमस के अवसर पर ऑवर लेडी ऑफ असम्पसन चर्च चुहड़ी में फादर फिनटन, फादर पाकिया राज और फादर अनूप ने संयुक्त रूप से मिस्सा बलिदान चढ़ाया।

उपदेश देते हुए पल्ली पुरोहित फादर फिनटन ने कहा क्रिसमस का त्योहार येसु के जन्मोत्सव का त्योहार है। ख्रीस्त जयंती का पर्व धार्मिकता, प्रेम और आनंद का संदेश देता है। इंसान के जीवन में आंतरिक आनंद जब तक नहीं होगा तब तक बाहरी आनंद बेकार है। हमें अपने जीवन में ईश्वर के संदेश को उतारने की जरूरत है ताकि ख्रीस्त की आशीष, कृपा हम सभी पर बनी रहे।

स्वर्गदूत कहते है स्वर्ग में ईश्वर की महिमा हो, और पृथ्वी पर उनकी कृपा पात्रों को शांति मिले।

इसलिए हम सभी को प्रत्येक इंसान को अपने समान समझकर प्रेम करनी चाहिये। मिस्सा पूजा के बाद सभी लोग एक- दूसरे से हाथ मिलाकर, गले लगकर, बड़े बुजुर्गों के पैर छूकर आशीर्वाद लिए और एक दूजे को मिठाई खिलाकर क्रिसमस की बधाई दिए।

संगीत मंडली के द्वारा येसु के जन्मोत्सव के संगीत गाया गया। खुशी मनाओ, गाओ रे जन्मा है येसु राजा- राजा, गीत से गिरजाघर गूंज गया। इस अवसर पर गिरजाघर को विशेष रूप से सजाया गया था। चरनी में बालक येशु की मूर्ति के साथ ही आकर्षक झांकी दर्शाई गई थी।

पूरे गिरजाघर को रंग बिरंगे तारों और लाईट से सजाया गया था।