पूर्वांचल दांव के जरिए बीजेपी को मिली बड़ा ऐतिहासिक जीत!

दिल्ली एमसीडी चुनाव नतीजों की स्थिति साफ हो चुकी है. भारतीय जनता पार्टी ने प्रचंड जीत हासिल कर एक बार फिर एमसीडी पर अपना कब्जा कर लिया है. तो वहीं आम आदमी पार्टी को नतीजों से भारी झटका लगा है. बीजेपी की इस जीत के लिए प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को बड़ा श्रेय दिया जा रहा है, तो वहीं अमित शाह ने भी उन्हें जीत की बधाई दी. पूर्वांचली चेहरा होने के फायदा बीजेपी को चुनाव में काफी मिला और ऐतिहासिक जीत दर्ज की.

आपको बता दें कि दिल्ली में पूर्वांचली वोटर काफी संख्या में हैं, दिल्ली में लगभग 35 फीसदी मतदाता पूर्वांचल से हैं. यही कारण है कि चुनाव में इनका काफी असर रहता है. संख्या के हिसाब से देखें तो लगभग 40 लाख वोटर पूर्वांचली हैं. यही कारण रहा है कि बीजेपी ने भी इन्हें साधने के लिए कई नीति अपनाईं.

मनोज तिवारी को अध्यक्ष बनाना बीजेपी के लिए तुरु प का इक्का साबित हुआ. मनोज तिवारी पूर्व से हैं और लोकप्रिय चेहरा हैं जिसका फायदा बीजेपी को मिला है. मनोज के अलावा रविकिशन ने भी चुनावों में काफी प्रचार किया.

कांग्रेस के समर्थक रहे हैं पूर्वांचली
आपको बता दें कि दिल्ली में रहने वाले पूर्व के लोग परंपरागत रूप से कांग्रेस के समर्थक माने जाते रहे हैं, लेकिन पिछले विधानसभा चुनाव में इनका यह वोट बैंक इनसे दूर होकर आम आदमी पार्टी (आप) के साथ चला गया है. कांग्रेस एक बार फिर से इन्हें अपने साथ जोडऩे की कोशिश की थी. कांग्रेस पार्टी ने निगम चुनाव में पूर्वांचल के 54 कार्यकर्ताओं को टिकट दिया है.

आप ने भी डाले थे डोरे
गौरतलब है कि विधानसभा चुनावों में आप की ऐतिहासिक जीत का कारण पूर्वांचली ही रहे थे, यही कारण था कि निगम चुनावों में भी आप ने 30 से अधिक पूर्वांचली उम्मीदवारों को टिकट दिया था. अभी भी आप के 14 विधायक और 2 मंत्री पूर्वांचल से जुड़े हुए हैं.